जब वे प्रदेश की जनता के मुद्दे विधानसभा में उठा रहे थे तो कांग्रेस व भाजपा के विधायक और मंत्री बेशर्मो की तरह दांत निकाल रहे थे : अभय चौटाला

गोपाल कांडा जैसे लोगों से हाथ मिलाने वाले लोगों का चुनरी चौपाल करने का कोई औचित्य नहीं : चौटाला

नवीन मल्होत्रा

कैथल (Kaithal,Haryana)

 जब वे विधानसभा में एसवाईएल नहर निर्माण को लेकर, रोजगार को लेकर, मेवात जैसे जिलों को प्रदेश में विकास की मुख्यधारा में लाने जैसे प्रदेश की जनता के जनहित के मुद्दे विधानसभा में उठा रहे थे तो वहां पर भाजपा के मंत्री व कांग्रेस के विधायक हंस रहे थे, खिलखिला रहे थे, जनता के हितों वाले मुद्दों पर गंभीर होने की बजाय बेशर्मो की तरह दांत निकालना कहां तक शोभनीय है, यह कहना है नेता प्रतिपक्ष और वरिष्ठ इनेलो नेता अभय सिंह चौटाला का, वे आज कैथल में पहुंची जन अधिकार यात्रा के दौरान पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि प्रदेश की बदकिस्मती है कि जनता ने भाजपा व कांग्रेस के उन लोगों को चुनकर विधानसभा में भेजा है जो विधानसभा में जनता के मुद्दों पर चर्चा करने की बजाय बेशर्मो की तरह दांत निकालते हैं। अभय सिंह चौटाला ने कहा कि उनको प्रदेश के हितों से कोई सरोकार नहीं और जनहित मुद्दों पर चर्चा की बजाय केवल अपने हितों से जुड़े बिलों को पास करवाने के लिए विधानसभा में जाते हैं, ऐसे लोगों को भेजना दुर्भाग्यपूर्ण है।

अभय सिंह चौटाला ने कहा कि जब उन्होंने सीएम से पूछा कि क्या पंजाब, यूपी,, मध्य प्रदेश, राजस्थान की तर्ज पर हरियाणा के किसानों के कर्ज माफ होंगे तो सीएम द्वारा यह मानने से इनकार करते हुए चर्चा को लेकर कोई चिंताजनक नहीं दिखाई दिए और चर्चा करने की बजाय मुस्कुरा रहे थे। अभय चौटाला ने प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेशभर के विश्वविद्यालयों के केवल नाम बदले जा रहे हैं, नया स्कूल-कॉलेज अथवा विश्वविद्यालय नहीं बनाए गए हैं। उन्होंने कहा कि सभी योजनाओं में केवल लीपापोती की जा रही है।

अभय सिंह चौटाला ने कहा कि रेवाड़ी के अंदर मलेठी गांव है जहां पर पंचायत द्वारा जमीन देकर एक परियोजना का शिलान्यास मुख्यमंत्री द्वारा किया जाना था लेकिन एक विधायक को खुश करने के लिए मुख्यमंत्री ने उसको दूसरी जगह शिफ्ट कर दिया।

इसके साथ-साथ उन्होंने कहा कि रोडवेज कर्मचारियों को भी सरकार द्वारा केवल लॉलीपॉप देने का काम किया है। प्रदेश सरकार द्वारा किसानों के लिए फ्री ट्यूबल कनेक्शन की घोषणा के जवाब में बोलते हुए अभय सिंह चौटाला ने कहा कि सत्ता में आने से पहले प्रदेश के मुख्यमंत्री एक निजी कंपनी में कार्य करते थे जो सोलर लगाने का काम करती थी और अब सोलर कंपनी को फायदा पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री द्वारा सोलर कनेक्शन लगाने की बात की जा रही है, जिसका सीधा सीधा लाभ पच्चीस परसेंट मुनाफा कम्पनी को पहुंचाना चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि वे तेलंगाना राज्य की तर्ज पर किसानों की फसल का प्रति एकड़ लागत मूल्य के हिसाब से लाभ देने के लिए योजना तैयार करेंगे। उन्होंने कहा कि यह काम सरकार आने पर तुरंत प्रभाव से किया जाएगा।

मुख्यमंत्री द्वारा स्वयं को पंजाबी बताए जाने की खबर वायरल होने के बाद प्रदेश भर में की जा रही कार्रवाई पर बोलते हुए अभय सिंह चौटाला ने कहा कि मुख्यमंत्री को तुरंत प्रभाव से प्रदेशभर की फेक आईडी चलाने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए।

कैथल जिले के भागल गांव में नैना चौटाला द्वारा किए गए कार्यक्रम चुनरी चौपाल पर चुटकी लेते हुए अभय सिंह चौटाला ने कहा कि चुनावी चौपाल वाले जब गोपाल कंडा जैसे अपराधी लोगों से हाथ मिलाते हैं तो उनकी चुनरी चौपाल के, बेटियो और माताओं-बहनों की बात करने का क्या औचित्य रह जाएगा, क्या मायने रह जायेंगे ? अभय चौटाला ने कहा कि बेटियों की इज्जत से खेलने वालों, प्रदेश को कलंकित करने वालों से हाथ मिलाने वाले नेता बेटियों को सुरक्षा देने की बात करते हैं।

अभय सिंह चौटाला ने कहा कि इनेलो और बसपा की सरकार बनने पर 10 हजार से लेकर 10 लाख तक का कर्जा किसानों का तुरंत प्रभाव से किया जाएगा। जैसे ओथ के सिग्नेचर होंगे उसके तुरंत बाद ही यह प्रस्ताव विधानसभा में पारित किया जाएगा। उन्होंने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री तो केवल बयानबाजी करते हैं हम काम करके दिखाएंगे। प्रदेश भर में अनेक पार्टी द्वारा की जा रही रैलियों पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि रैलियां करना नेताओं का काम है और सत्ता सौंपना जनता का काम है। लोगों ने कांग्रेस व भाजपा के राज को देख लिया है अब इनेलो बसपा की सरकार बनना तय है। इस मौके पर उनके साथ इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा,, पूर्व संसदीय सचिव रामपाल माजरा, जिला अध्यक्ष कंवरपाल करोड़ा, युवा जिलाध्यक्ष अनिल क्योड़क आदि मौजूद रहे।

Courtesy Naveen Malhotra, a Kaithal-based senior journalist.The author is responsible for the content. (Editor-in-Chief)

Hits: 32

Leave a comment

जब वे प्रदेश की जनता के मुद्दे विधानसभा में उठा रहे थे तो कांग्रेस व भाजपा के विधायक और मंत्री बेशर्मो की तरह दांत निकाल रहे थे : अभय चौटाला | NORTH INDIA KALEIDOSCOPE

Rajesh Ahuja

I am a veteran journalist based in Chandigarh India.I joined the profession in June 1982 and worked as a Staff Reporter with the National Herald at Delhi till June 1986. I joined The Hindu at Delhi in 1986 as a Staff Reporter and was promoted as Special Correspondent in 1993 and transferred to Chandigarh. I left The Hindu in September 2012 and launched my own newspaper ventures including this news portal and a weekly newspaper NORTH INDIA KALEIDOSCOPE (currently temporarily suspended).